Amazing Interesting Facts About IPL (Indian Premier League)

0
51

IPL के मजेदार और रोचक तथ्‍य- Indian Premier League Interesting Facts

IPL किसी सुहाने मौसम की तरह हो गया है, लेकिन यह IPL का मौसन केवल 2 महीने के लिए ही आता है और क्रिकेट प्रेमीयों का दिल छू जाता है। चाहे किसी भी देश का क्रिकेट प्रेमी हो हर कोई इसके शुरू होने का इन्तजार करता है।

IPL ने अपने पहले ही मैच से लोकप्रियता हासिल करनी शुरू कर दी थी। IPL के टूर्नामेंट में अलग अलग देशों से खिलाडी आकर, भारत के शहरों के नाम से प्रतिनिधित्व करते हुए खेलते हैं। इंडियन प्रीमियर लीग को ही IPL के नाम से जाना जाता है। IPL को भारतीय क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड BCCI के द्वारा ही संचालित किया जाता है। IPL की खास बात यह है कि यह मैंच केवल 20-20 ओवरों का ही होता है।

IPL की स्थापना 2007 में BCCI के पूर्व सदस्य ललित मोदी के द्वारा कि गई थी। IPL दुनिया में सबसे अधिक प्रचलित क्रिकेट का खेल है और दुनिया के सभी खेल लीग के बीच छठे स्थान पर है। IPL का 2010 में यूट्यूब पर सीधा प्रसारण किया गया था।

IPL की शुरूआत 23 सितम्‍बर 2007 में हुई थी और IPL की प्रथम विजेता टिम राजस्‍थान रॉसल्‍स थी।

IPL मैंच का सीधा प्रसारण पहली बार 2010 में यूट्यूब पर किया गया था।

ब्रैंडन मैकुलम ने IPL के पहले ही मैच में 158 रन बनाकर इस खेल को और ज्‍यादा लोकप्रिय और रोचक बना दिया था।

IPL के मैचों में सबसे ज्यादा कैच सुरेश रैना ने किए हैं।

IPL के सभी मैचों में पहला मैच Mumbai Indians या Kolkata Knight Riders की टीमों ने ही जीता है।

2015 तक के IPL के इतिहास में युवराज सिंह को सबसे अधिक 16 करोड रुपए में खरीदा गया जबकि IPL की पुरस्कार राशि 15 करोड़ थी।

IPL के मैंच में यूसुफ पठान ने 37 गेंदों में 100 रन बनाकर IPL का सबसे तेज शतक बनाने वाले खिलाड़ी बन गए थे।

Chennai Super Kings ही एकमात्र ऐसी टीम रही है जिसने अपना कप्तान नहीं बदला।

धोनी शुरु से ही Kolkata Knight Riders के कप्तान रहे हैं।

IPL के मैचों में हरभजन सिंह सबसे ज्यादा बार केवल जीरो रन पर ही आउट हुए हैं। कुल मिला कर हरभजन सिंह 12 बार बिना रन बनाए ही Pavilion लौट गए हैं।

Chennai Super Kings IPL के 9 सीजन में सबसे ज्यादा बार अंतिम में हारने वाली टीम है।

यूसुफ पठान तीन बार विजेता टीम के सदस्य रहे हैं। वह 2008 की चैंपियन Rajasthan Royals, और फिर 2012 और 2014 की चैंपियन Kolkata Knight Riders के सदस्य रहे हैं।

2014 के IPL मैच में अंपायर ने कीरन पोलार्ड को शांत रहने को कहा तो कीरन पोलार्ड अपने मुंह पर टेप बांधकर आ गए थे।

IPL-2 में Chennai Super Kings और Mumbai Indians के बीच हुए मैच में एक कुत्ता मैदान पर आया गया था।

अमेरिका की एक एजेंसी के सर्वे के अनुसार IPL की कुल ब्रांड वैल्यू 2015 में लगभग 5 अरब American dollar थी।

IPL में गौतम गंभीर के नाम सबसे अधिक शतक है और गौतम गंभीर के नाम ही सबसे अधिक शून्य पर आउट होने का रिकॉर्ड है।

पार्थिव पटेल ने IPL में 6 अलग-अलग टीमों के लिए खेला है। ऐसा किसी अन्‍य खिलाड़ी ने नहीं किया है।

2013 के IPL में Dale Steyn 212 Dot Ball फेंक कर रिकॉर्ड बनाया था।

सबसे अधिक जीत का प्रतिशत चेन्नई सुपर किंग्स के नाम है।

BCCI के अनुसार 2015 के IPL ने भारतीय अर्थव्यवस्था में 182 मिलियन अमेरिकन डॉलर का योगदान दिया था।

भारतीय खिलाड़ी जहीर खान एकमात्र ऐसे खिलाड़ी है जिन्‍होंने IPL के पहले और 500वें मैच को खेला है।

IPL में सबसे अधिक बार हारने और कभी फाइनल में नहीं पहुंचने का खिताब Delhi Daredevils की टीम को जाता है।

पियूष चावला ने IPL में 400 ओवर किए हैं, लेकिन इन 400 ओवरों में अभी तक एक भी No Ball नहीं फेंकी है। यह एक रिकॉर्ड है।

2007 में Indian Cricket League की स्थापना Jee Entertainment Enterprises द्वारा प्रदान धन के साथ हुई थी।

IPL में सबसे अधिक शतक बनाने का रिकॉर्ड गौतम गंभीर के नाम है।

सबसे अधिक शून्य पर आउट होने का रिकॉर्ड भी गौतम गंभीर के नाम है।

Amazing Interesting Facts About IPL (Indian Premier League),Best Facts About IPL,Top Facts About IPL,Amazing Facts About IPL,True Facts About IPL,Latest Facts About IPL,Unknown Facts About IPL,Unique Facts About IPL

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here